Welcome to Gaonwala

कृषि

Detail

ग्रामोद्योग

Detail

सेवादाता

Detail

उपकरण

Detail

स्टेशनरी

Detail

घर

Detail

वाहन

Detail

यंत्र

Detail

जैविक

Detail

परिधान

Detail

डेली नीड्स

Detail

फर्नीचर

Detail

00+

Services

00+

Farmers

00+

Vendors

00+

ORGANIC FARMERS
testimonial

Happy Farmer Feedback

रामकुमार कुर्मी - सिरोंज विदिशा मप्र


गांववाला ऐप किसानों एवं व्यापारियों के लिए वरदान सबित होगा। ऐप में जो सरल भाषा का उपयोग किया गया है उससे आम नागरिक भी बड़ी आसानी से जुड़कर अपने व्यापार को और अधिक गति दे सकते हैं।
सभी किसाना एवं व्यापारियों को ऐप में जुड़कर इस सेवा का लाभ लेना चाहिए।

अनिल भंवरे - हरदा मप्र

गांववाला ऐप किसानों को जहां अपने उत्पाद को बाजार तक पहुंचाने की सुविधा दे रहा है, वहीं व्यापारियों को भी स्थानीय स्तर पर ही डिजिटल खरीदी-बिक्री का ऑप्शन दे रहा है। छोटे शहरों कस्बों में व्यापारियों को कई वस्तुओं की जानकारी सरलता से ऐप पर मिल जाएगी क्योंकि इसमें बड़े व्यापारी भी जुडकर सेवा प्रदान कर रहे हैं।

गजेन्द्र कोरे - नागपुर महाराष्ट्र


गांववाला ऐप छोटे एवं बड़े सभी उद्योगों को और गति देने में बहुत लाभकारी होगा। मैने भी यह ऐप डाउनलोड कर लिया है। मैं अपने प्यापार से जुड़े प्रोडक्ट को ऐप पर डालकर खूब प्रचार कर रहा हूॅ। कोरोना महामारी के दौरान इस ऐप से बहुत सहायता मिल रही है।

निर्मेश राजौरिया - रायसेन


गांववाला ऐप की देश को आज जरूरत है। यह ऐप सीधे व्यापारी से किसानों को जोड़ता है। तकनीक युग में व्यापार को सरल भाषा में अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने में ऐप बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहा है।

यशवंत पटेल - नरसिंहपुर

गांववाला ऐप में किसानों के साथ व्यापारियों को भी बड़ा फायदा होगा। युवा अपने क्षेत्र में ही अनेको देसी उत्पादों की ब्रांडिंग कर उसे बाजार में पहुंचाएंगे। गाॅववाला ऐप स्वरोजगार की दिशा में अच्छा माध्यम साबित हो रहा है। इस ऐप से बड़ी संख्या में युवा जुड़ रहे हैं। बधाई।

अजय शर्मा - मंदसौर

गांववाला ऐप के किसानों के उत्पाद को ब्रांड बनानाकर उसके लिए बाजार तैयार करने के प्रयास सराहनीय है। इस पहल से देषी उत्पादों को बड़ा बाजार मिलेगा। जैविक किसानों के प्रमाणन को लेकर भी ऐप तकनीकी रूप से सहयोगी होगा, यह ऐप भारत के विकास में बड़ी भूमिका निभाएगा।

योगेन्द्र बिसेन - बालाघाट मप्र

गांववाला ऐप पर दुर्लभ प्रजातियों के उत्पाद को बाजार मिलेगा, क्योंकि ग्राहक सीधे उत्पादक से संपर्क करेगा। अभी ग्रामीण अंचलों के कई उत्पाद बाजार नहीं मिलने से खराब हो जाते हैं उनकी पहुंच बाजार तक बढ़ेगी जिससे स्थानीय स्तर पर रोजगार को बढ़ावा मिलेगा।

आरती यादव - औबेदुल्लागंज

अब द्यरेलू महिलाएं भी नए-नए नवाचार कर कई प्रोडक्ट बनाकर गाॅववाला ऐप पर रखेंगी। महिला समूहों के उत्पादों के बिक्री की पहुंच पूरे देश में हो सकेगी। ऐप युवतियों को स्थानीय स्तर पर घर से ही रोजगार देने में बहुत सहयोगी हो रहा है।

दीपक यादव - होशंगाबाद

गांववाला ऐप वर्तमान युग का बेहतर माध्यम है,क्योकि इसमें व्यापारियों के साथ-साथ सेवाप्रदाता एवं परिवहन सुविधा को भी शमिल किया गया है। ऐप पर कई सुविधाओं को भी जोड़े जाने से कई जानकारी एक प्लेटफार्म पर ही मिल जाएगी। रहा है।

शिवम सिंघानिया - खरगौन मप्र

सरकारें किसानों के उत्पादों को बाजार तक सीधे पहुंचाने की बात कर रही है। ऐसे में गांववाला ऐप बहुत बढ़िया डिजिटल विकल्प है। इस माध्यम से व्यापारियों तक किसान सीधे जुड़ सकता है। किसान स्वयं अपनी उपज के दाम तय कर बाजार में अपने उत्पाद बेच सकता है।

FROM THE BLOG

Agri News & Articles

देश में पहली बार शुरू होगी गधी के दूध के डेयरी

सात हजार रुपए लीटर बिकेगा दूध ।
बच्चों के गधी के दूध से नहीं होगी एलर्जी ।
प्रोडक्ट भी हो रहे हैं तैयार ।

आगे पढ़े

स्ट्रॉबेरी की खेती कर प्रति एकड़ कमाएं आठ लाख रूपये

स्ट्रॉबेरी एक बहुत ही नाज़ुक फल होता है। जो की स्वाद में हल्का खट्टा और हल्का मीठा होता है। दिखने में दिल के आकर का होता है।

आगे पढ़े

किसान अब समझने लगे हैं, खेती वही जो बाजार के मन को भाए

उत्पादन में भरपूर बढ़ोत्‍तरी के बावजूद लाखों किसानों की आजीविका की राह आसान नहीं है। बाजार तक पहुंच बढ़ाने अब किसान तकनीक का उपयोग भी बढ़ा रहे है।

आगे पढ़े
Free Shipping On Over $ 50
Agricultural mean crops livestock
Membership Discount
Only MemberAgricultural livestock
Money Return
30 days money back guarantee
Online Support
30 days money back guarantee